भारतीय यूवा शुभम को मिला सुनहरा मौका, Amazon ने दिया 1.15 करोड़ का पैकेज…

join WhatsApp group


आज कि यूवाओं के टैलेंट अलग-अलग क्षेत्रों में बुलंदियों को छू रहे हैं और सफलता का परचम लहरा रहे हैं। रांची अरगोड़ा के निवासी शुभम राज ने Amazon Berlin में बतौर सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट इंजीनियर के रूप में ऑफर लेकर अपनी पहचान सॉफ्टवेयर सेंसेशन के रूप में बना ली है। IIT अगरतला में पढ़ाई कर रहे शुभम राज को मिली बड़ी सफलता,शुभम का चयन 1.15 करोड़ के पैकेज के साथ अमेजन कंपनी के बरलिन आफिस के लिए साफ्टवेयर डेवलपमेंट इंजीनियर के रूप में हुआ है। बता दें कि शुभम राज ने ऑफ कैंपस प्लेसमेंट के जरिये ‘अमेजन’ में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की नौकरी हासिल की है। वही इससे पहले 2021 में शुभम राज का चयन विश्वस्तरीय प्रतियोगिता ‘गूगल समर ऑफ कोड -2021’ के लिए भी हुआ था।



Read More:-खांसी-सर्दी या सिरदर्द से हैं, परेशान तो पिएं नमकीन चाय…

बता दें कि शुभम के परिजन तो खुश हैं ही, साथ ही पड़ोसी भी फूले नही समा रहे हैं। पड़ोसियों का कहना है कि ‘सॉफ्टवेयर के धोनी’ के बगल में रहने से वे गर्व महसूस कर रहे हैं। रांची अरगोड़ा के निवासी मदन सिंह एवं रीना सिंह के घर जश्न का माहौल है और पड़ोसी बधाई देने पहुंच रहे हैं। बेटे शुभम राज का चयन 1.15 करोड़ के पैकेज के साथ अमेजन कंपनी के बरलिन आफिस के लिए साफ्टवेयर डेवलपमेंट इंजीनियर के रूप में हुआ है।

Read More:-महिंद्रा : अवनी लेखरा को दी XUV700 गोल्ड एडिशन, स्पेशल सीट के साथ हैं ख़ास …

उनकी माता रीना सिंह कहती हैं कि पुत्र ने उनकी ज़िंदगी को खुशियों से भर दिया है। ऐसा खुशियों भरा दिन उन्‍होंने ज़िंदगी के सफर में अबतक नही देखा था। पड़ोस के लोग भी मिठाई बांट रहे हैं और बेहद खुश हैं। पड़ोसी बताते हैं कि वाकई शुभम के मेहनत ने उसे ‘सॉफ्टवेयर का धोनी’ बना दिया हैदूसरे राज्‍य के लोग भी उसे उसकी सॉफ्टवेयर पर पकड़ के लिए जानते हैं, उनकी इस सफलता से इस क्षेत्र में रुचि रखने वाले कई एस्पिरेन्ट्स को मोटिवेशन मिलेगा और मनोबल बढ़ेगा की छोटे जगह से भी बड़े सपनों को साकार किया जा सकता है।

शुभम ने JVM श्यामली रांची से 12वीं की है, अब वह IIT अगरतला में फाईनल परीक्षा देने के बाद अमेजन कंपनी में अपना योगदान देंगे। बता दे कि शुभम ने कक्षा 11वीं से ही कोडिंग पर कार्य करने का अभ्यास शुरू कर दिया था।

You may have missed

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="69"]