दिव्यांगों के सशक्तीकरण ने बढ़ाया मान, छत्तीसगढ़ को तीन राष्ट्रीय पुरस्कार..

join WhatsApp group


दिव्यांगजनों के कल्याण के लिए किए जाने वाले श्रेष्ठ कार्यों के लिए छत्तीसगढ़ को तीन राष्ट्रीय पुरस्कार मिले हैं नई दिल्ली के विज्ञान भवन में अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ को राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया | मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए सभी पुरस्कृतों को बधाई दी, और आने वाले समय में दिव्यांगजनों के हित में श्रेष्ठ कार्य करने के लिए शुभकामनाएं दी हैं |


Read More:-छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग (CGPSC) में 386 पदों पर निकली है भर्ती, 16 दिसंबर से शुरू होगे आवेदन…

छत्तीसगढ़ में दृष्टिहीन दिव्यांगजनों को ब्रेल लिपि में पाठ्य पुस्तक ,साहित्य एवं ज्ञानवर्धक ब्रेल पुस्तकों के साथ ही सुगम्य पुस्तकालय अंतर्गत ई- लाइब्रेरी में ऑनलाइन शिक्षण में उल्लेखनीय कार्य के लिए ब्रेल प्रेस बिलासपुर को राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त हुआ। नवा रायपुर अटल नगर में दिव्यांगजनों के लिए सड़क, भवन, सार्वजनिक स्थल तथा अन्य स्थानों पर बाधारहित वातावरण निर्माण करने, दिव्यांगजनों के लिए शौचालय निर्माण आदि कार्यों के लिए नवा रायपुर अटल नगर विकास प्राधिकरण को राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया है। समता कॉलोनी रायपुर में नुक्कड़ टी कैफे वेंचर्स , एल.एल.पी. द्वारा श्रवण बाधित दिव्यांग व्यक्तियों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए नुक्कड़ टी कैफे का संचालन कुशलतापूर्वक किया जा रहा है ।

Read More:-UGC ने लिए फैसले, पीएचडी दाखिले के लिए अब NET और यूजी, पीजी के लिए CET होगा जरूरी…

इसमें श्रवण बाधित व्यक्तियों द्वारा जनसामान्य को अपनी सेवाएं दी जा रही है । समाज में दिव्यांग व्यक्तियों के प्रति सकारात्मक वातावरण के दिशा में उल्लेखनीय कार्य के लिए उन्हें भी यह पुरस्कार प्रदान किया गया।पुरस्कार ग्रहण छत्तीसगढ़ की महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया द्वारा किया गया साथ ही इस खास अवसर पर समाज कल्याण विभाग की सचिव रीना बाबा साहेब कांगले , संचालक समाज कल्याण पी. दयानन्द, उप सचिव छत्तीसगढ़ शासन समाज कल्याण विभाग राजेश तिवारी और संयुक्त संचालक समाज कल्याण पंकज वर्मा भी उपस्थित रहे।

You may have missed

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="69"]