मदर टेरेसा कॉलेज ऑफ नर्सिंग स्टूडेंट्स ने “प्रकृति के लिए समय” निकाला, ऑनलाइन पोस्टर, स्लोगन कॉम्पिटीशन में भाग लेकर पर्यावरण बचाने का संदेश दिया।

दुर्ग, 5 जून 2020

कुम्हारी स्थित मदर टेरेसा कॉलेज ऑफ नर्सिंग के स्टूडेंट्स ने मानव सेवा की दिशा में एक कदम और आगे बढ़ते हुए विश्व पर्यावरण दिवस पर ऑनलाइन पोस्टर, ड्रॉइंग, स्लोगन कॉम्पिटीशन में भाग लेकर पर्यावरण बचाने का संदेश दिया।

कोविड-19 की वजह से लॉकडाउन के चलते कॉलेज बंद हैं, लेकिन कॉलेज प्रबंधन ने स्टूडेंट्स को ऑनलाइन कॉम्पिटीशन के जरिये पर्यावरण बचाने के लिए एकजुट किया। 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस प्रतिवर्ष मनाया जाता है। इस वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस की थीम प्रकृति के लिए समय रखी गई है। इसी थीम पर आधारित पेटिंग बनाकर औऱ स्लोगन लिखकर नर्सिंग स्टूडेंट्स ने भेजे हैं।

नर्सिंग स्टूडेंट्स ने अपनी बनाई पेटिंग्स में प्रकृति को बचाने के लिए पर्यावरण को सहेजने औऱ ज्यादा से ज्यादा संख्या में पेड़ लगाने के लिए प्रोत्साहित किया है। जल, जंगल और जमीन ये तीन जीवन के आधार है। स्टूडेंट्स ने अपनी बनाई पेटिंग्स में जीवन के इन तीनों आधारों को बड़ी खूबसूरती से उकेरा है।

एमटीसीएन कॉलेज की प्रिंसिपल के.दीपा और संस्थान के डायरेक्टर महेन्द्र श्रीवास्तव ने इस अवसर पर सभी छात्र-छात्राओं और कॉलेज स्टाफ को विश्व पर्यावरण दिवस की शुभकामनाएं दी हैं। संस्थान के वाइस चेयरमैन डॉ. जे.के. उपाध्याय ने भी अपने हाथों से पौधरोपण करके विश्व पर्यावरण दिवस को सार्थक किया है।

डॉ. उपाध्याय ने कहा कि बढ़ती मोटर गाड़ियां, कारखाने, लगते उद्योग और कटते वृक्ष, पर्यावरण को काफी नुकसान पहुंचा रहे है. बिना पर्यावरण के जीवन संभव ही नहीं है. ऐसे में हमें वातावरण दूषित करने से बचने के अलावा प्रकृति के साथ तालमेल बिठा कर काम करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Subscribe To Our Newsletter