फार्मेसी में पीएचडी कर संवारे अपना भविष्य, सीएसवीटीयू भिलाई में 23 दिसंबर तक करें आवेदन।

भिलाई,

छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय ( CSVTU) भिलाई ने फार्मेसी विषय में पीएचडी प्रवेश के लिए आवेदन मंगाए हैं। आवेदन करने की अंतिम तिथि 23 दिसंबर 2019 है। पीएचडी में प्रवेश एंट्रेंस एग्जाम के जरिए होगा। इसके लिए 11 जनवरी 2020 को पीएचडी प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। यूनिवर्सिटी ने 12 दिसंबर को ही इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दिया है।

फार्मेसी विषय में पीएचडी करने के लिए विश्वविद्यालय की वेबसाइट www.csvtu.ac.in से आवेदन पत्र डाउनलोड किये जा सकते हैं। पूर्ण रूप से भरे हुए आवेदन पत्र ऑनलाइन और ऑफलाइन तरीके से यूनिवर्सिटी के निर्धारित रिसर्च सेंटरों पर 23 दिसंबर शाम 5 बजे तक जमा किये जा सकते हैं।

सीएसवीटीयू ने दुर्ग जिले के कुम्हारी में पावर ग्रिड के पीछे स्थित श्री रावतपुरा सरकार इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मेसी को अपना रिसर्च सेंटर बनाया है। 18 एकड़ में फैले एसआरआईपी रिसर्च सेंटर में शोध के लिए सभी आवश्यक चीजें उपलब्ध हैँ।

एसआरआईपी प्रदेश के प्रतिष्ठित फार्मेसी कॉलेजों में से एक है। कॉलेज अभी तक सैकड़ों छात्रों को डिग्री प्रदान कर चुका है। कॉलेज की शानदार ई-लाइब्रेरी, वृह्द सेमिनार हॉल, रिसर्च रूम, ऑफलाइन लाइब्रेरी, हर्बल गार्डन, एनिमल हाउस, विशाल प्ले ग्राउंड, शोरगुल और प्रदूषण से दूर प्राकृतिक वातावरण में रहने के लिए हॉस्टल सुविधा, आधुनिक मैस की सुविधा किसी भी रिसर्च स्कॉलर को शोध के लिए बेहतर माहौल मुहैया कराती हैँ।

एसआरआईपी के उच्च शिक्षित शिक्षक और शोध निर्देशक शोधार्थियों को अपना शोध कार्य पूरा करने में सहयोग प्रदान करते हैँ। रायपुर, भिलाई के आस-पास के इलाके में श्री रावतपुरा सरकार इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मेसी अपना अलग ही स्थान रखता है। समय-समय पर यहां होने वाले राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर के सेमिनार, क्विज कॉम्पिटीशन, डिबेट कॉम्पिटीशन, स्पोर्ट्स एक्टिविटीज छात्रों को किताबी ज्ञान से बहुत ज्यादा कुछ प्रदान करते हैं।

अगर आप भी फार्मेसी में पीएचडी करने की सोच रहे हैं तो श्री रावतपुरा सरकार इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मेसी आपके लिए एक बेहतर रिसर्च सेंटर हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Subscribe To Our Newsletter