श्री रावतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी के नर्सिंग छात्रों ने धनेली गांव में निकाली एड्स जागरूकता रैली।

रायपुर, 30 नवंबर

हर वर्ष की भांति इस बार भी 1 दिसंबर को दुनिया भर में विश्व एड्स दिवस मनाया जाएगा। इस बार विश्व एड्स दिवस की थीम कम्युनिटी मेक्स द दिफरेंस रखी गई है। एड्स जैसी जानलेवा और गंभीर बीमारी के खतरों से अवेयर करने के लिए श्री रावतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी के नर्सिंग विभाग की ओर से धनेली गांव में जागरूकता रैली निकाली गई। जिसमें बड़ी संख्या में नर्सिंग स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया।

हाथों में बैनर, पोस्टर और तख्तियां पकड़े स्टूडेंट्स गांव की गलियों से गुजरे तो ग्रामीण चौंक गए। गांव के चौक पर इक्ट्ठे होकर स्टूडेंट्स ने ग्रामीणों को एड्स के खतरों को लेकर आगाह किया। उन्हें एड्स से बचाव के तरीके और उपाय सुझाये। छत्तीसगढ़ के ग्रामीण इलाकों में एड्स खतरनाक बीमारी बनकर उभरी है। इस दिशा में श्री रावतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी की ओऱ से निकाली गई जागरूकता रैली सराहनीय कदम कहा जाएगा।

यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. ए.ए. कुलकर्णी ने जागरूकता रैली में शामिल स्टूडेंट्स और टीचर्स का मनोबल बढ़ाया। उन्होंने कहा कि एड्स के प्रति जागरूकता ही बचाव है और इस बात की जितना अधिक प्रचार किया जाए उतना ही अच्छा है। लेकिन जागरूकता के अभाव में ग्रामीण कई बार एड्स के शिकार बन जाते हैँ। ऐसे में नर्सिंग स्टूडेंट्स की ये जिम्मेदारी बनती है कि वो अपने नर्सिंग के पेशे को सार्थक करते हुए सही जानकारी लोगों तक पहुंचाएं।

इस अवसर पर श्री रावतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स ने नुक्कड नाटक पेश करके एड्स के प्रति जागरूक रहने का संदेश दिया।

You may have missed

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="69"]