युवाओं को आंत्रप्रेन्योरशिप के गुर सिखाने के लिए 24 अक्टूबर को एसआरयू में होगा द स्टार्टअप लीग-2019 का आयोजन।

            रायपुर, 17 अक्टूबर
बढ़ती बेरोजगारी और घटती नौकरियों के दौर में स्वरोजगार सबसे बड़ा सहारा बनकर उभरा है। लेकिन स्वरोजगार शुरु करने और आंत्रप्रेन्योर बनने के लिए यूनिक आइडिया और इनोवेशन का होना बेहद जरूरी है। बिना यूनिक आइडिया के किसी भी स्टार्टअप के सफल होने की गुंजाइश बेहद कम हो जाती है। युवाओं के पास जितना इनोवेशन होगा, जितना बाजार को लेकर उनका जितना बड़ा दायरा होगा, आंत्रप्रेन्योर बनने के लिए उनकी समझ भी उतनी ही बड़ी होती चली जाएगी।

लेकिन यूनिक आइडिया और इनोवेशन के बावजूद कुछ युवा सफल नहीं हो पाते हैं। ऐसे ही प्रतिभाशाली युवाओं को दिशा दिखाने के लिए श्री रावतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी में 24 अक्टूबर को द स्टार्टअप लीग -2019 का आयोजन किया जा रहा है। स्टार्टअप्स को बढ़ावा देने का काम कर रही मिलियन माइंड्स इस कार्यक्रम की सहयोगी संस्था है। मिलियनमाइंड्स के डायरेक्टर चिराग शर्मा ने बताया कि द स्टार्टअप लीग-2019 में प्रदेश के किसी भी यूनिवर्सिटी-कॉलेज के स्टूडेंट्स शामिल हो सकते हैँ। स्टूडेंट्स अपने इनोवेटिव आइडियाज को द स्टार्टअप लीग-2019 के दौरान शेयर कर सकते हैं। बेहतरीन स्टार्टअप आइडियाज को जजों का एक पैनल सलेक्ट करेगा। सलेक्ट किए गए आइडियाज को ऑन द स्पॉट फंड की सुविधा मुहैया कराई जाएगी।ताकि आंत्रप्रेन्योर बनने की चाहत रखने वाला युवा मौके पर ही अपने स्टार्टअप की नींव रख सके। उन्होंने कहा कि अच्छा आइडिया होने के बावजूद फंड की कमी होने के चलते कुछ लोग आंत्रप्रेन्योरशिप की तरफ कदम नहीं बढ़ाते हैं। ऐसे प्रतिभाशाली युवाओं की मौके पर ही आर्थिक मदद की जाएगी और उनको सफल एंटरप्रेन्योर बनाने में सहयोग किया जाएगा।

द स्टार्टअप लीग-2019 में शामिल होने वाले युवाओं को एक सर्टिफिकेट प्रदान किया जाएगा। 10 बेस्ट आइडियाज देने वाले छत्तीसगढ़ के 10 युवाओं को मंच से अपने विचार रखने का मौका दिया जाएगा। स्टार्टअप शुरु कर अपना और दूसरों का जीवन बेहतर बनाने की ख्वाहिश रखने वाले युवाओं के लिए ये कार्यक्रम टर्निंग प्वाइंट साबित होगा।

कार्यक्रम में शामिल होने के लिए www.bit.ly/TSL-re2019 पर रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है।

You may have missed

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="69"]